Latest Marathi Jokes
Loading...

९ वर्षा पासून हि महिला आहे गर्भवती पण तिला बाळाला जन्म द्यायचे नाही कारण जाणून दंग होचाल

33

९ वर्षा पासून हि महिला आहे गर्भवती पण तिला बाळाला जन्म द्यायचे नाही कारण जाणून दंग होचाल

कहते हैं माँ जैसा दूसरा कोई नहीं हो सकता. शायद ये सच भी है. क्यूंकि माँ जैसी ममता और कोई इंसान नहीं दे सकता. बच्चे के लिए माँ ही उसका असली भगवान होता है. जब बच्चा माँ की कोख में होता है तो सिर्फ माँ ही उस बच्चे को महसूस कर पाती है. इसका कारण उसका बच्चे से लगाव होना है. वह बच्चा उसके ही शरीर का अंश होता है और उसके पेट में जुड़ कर हर पल हलचल से उसको एहसास दिलाता है कि वह अंदर एकदम ठीक ठाक है. माँ बनना दुनिया की तमाम खुशियों से उपर है. क्यूँ कि एक माँ को बच्चे का सुख मिलना भगवान के आशीर्वाद मिलने से कम नहीं है. भले एक बाप का अपने बच्चे से इतना लगाव हो न हो लेकिन, एक माँ अपने बच्चे को लेकर काफी सीरियस रहती है. उसके बच्चे को जरा भी दर्द हो तो वह खुद रो देती है. इसीलिए शायद उसका बच्चा भी सबसे ज्यादा उसी से प्यार करता है. कहते हैं कि “इस दुनिया में बच्चे के लिए माँ के आंचल के सिवा दूसरा कोई घर नहीं हो सकता”. लेकिन, आज हम आपको एक ऐसी माँ की कहानी बताने जा रहे हैं, जिसे जानकर आपके होश उड़ जायेंगे. दरअसल, ब्रिटेन की रहने वाली एक औरत अपने बच्चे को चाह कर भी जन्म नहीं दे पा रही. शायद आपको ये पढ़ कर थोडा अजीब लग रहा होगा लेकिन ये बिलकुल सच है. चलिए जानते हैं आखिर इस माँ की कहानी क्या है…

पिछले नो सालों से हैं ये महिला गर्भवती

जैसा कि हम सभी जानते ही हैं कि हर बच्चा अपनी माँ की कोख में 9 महीने तक रहता है. उसके बाद वह बच्चा प्रसव के बाद इस दुनिया में जन्म लेकर अपनी आँखें खोलता है. हर माँ के लिए उसके बच्चे को जन्म देना उसके खुद के दुसरे जन्म के समान होता है. लेकिन ब्रिटेन में एक ऐसी माँ भी है जो अपने बच्चे को जन्म नहीं देना चाहती. शायद आपको पढ़ कर आश्चर्य हो रहा होगा. लेकिन, ये सच है. जानकारी के अनुसार ये माँ पिछले 9 वर्षों से गर्भवती है और अभी तक अपना बच्चा पैदा नहीं करना चाहती. अब आप सोच रहे होंगे कि भला कोई ममता की मूरत भी ऐसा कर सकती है क्या? आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि बेर्ल रोमेन नाम की यह महिला बीते नौ साल से गर्भवती है और उसे देखकर लगता है कि वह आठ महीनों की गर्भवती होगी. लेकिन ऐसा कुछभी नहीं है चलिए जानतेहैं इस महिला की कहानी का आखिर क्या सच है.

Loading...

गर्भवती है किसी बीमारी से पीड़ित

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि भले ये महिला आठ महीने की गर्भवती दिखती हैं, लेकिन, हकीक़त में वह गर्भवती नहीं हैं. दरअसल, इस महिला को एक ऐसी घातक बीमारी है, जिसके चलते वह एक गर्भवती महिला नजर आती हैं. उनके बच्चे को लेकर अक्सर लोग उनसे कईं सवाल भी पूछते हैं कि आखिर किस वजह से वो बच्चे को जन्म नहीं दे रही है? इस सवाल का वह एक ही जवाब देती हैं कि वह कभी गर्भवती थी ही नही तो बच्चा कैसे पैदा कर सकेंगी.

जानकारी के अनुसार ये महिला यूटेराइन फाइब्रॉइड से पीड़ित है, जिसके कारण उसके पेट में 18 इंच तक बढ़ गया है. वह दुनियाभर के कई डॉक्टरों से सलाह ले चुकी है, लेकिन उसकी बीमारी का कोई इलाज नहीं है. डॉक्टरों ने उसे सलाह दी है कि उसे गर्भाशय निकलवाना होगा. इस बीमारी से लड़ते लड़ते उनकी सगाई भी टूट चुकी है. इसलिए अब उन्हें भी लगने लग गया है कि उनका माँ बनना असंभव है. आखिरकार बेर्ल ने पिछले साल लंदन में फाइब्रोइड्स और वॉम्ब की सर्जरी करवाकर उसे निकलवाया। बताते चलें कि हर 100 में से 50 महिलाओं को 50 साल की उम्र तक फाइब्रोइड्स होने का खतरा रहता है. ज्यादातर महिलाएं इस बीमारी से मोती लगने लगती हैं और अपनी बीमारी से अनजान रहती हैं.

You might also like
Loading...
%d bloggers like this: